शनि गोचर 2022 का कन्या राशि पर प्रभाव | Saturn Transit Effects on Virgo

शनि गोचर 2020-22 का कन्या राशि पर प्रभाव | Saturn Transit Effects on Virgo

शनि गोचर 2022 का कन्या राशि पर प्रभाव | Saturn Transit Effects on Virgo. कन्या राशि वालें जातक के लिए शनि देव  छठे ( रोग, दुःख, लड़ाई, झगड़ा ) और पंचम भाव का स्वामी होकर पंचम भाव में गोचर ( Transit in Fifth house)  करेंगे। पंचम भाव संतान, प्रेमी-प्रेमिका का घर है चूँकि शनि अपनी ही राशि मकर में भ्रमण करेंगे इस कारण संतान के स्वभाव में परिवर्तन दिखाई देगा । उनका स्वभाव पहले से रूखा तथा दम्भ भरा हो सकता है।

शनि गोचर 2022 | सामान्य फल | General Prediction

कन्या लग्न तथा कन्या राशि के जातकों के लिए शनि छठे और पंचम भाव का स्वामी होकर पंचम भाव में प्रवेश करेगा यहाँ से  शनिदेव की दृष्टि आपके विवाह भाव, लाभ भाव तथा धन भाव पर होगी फलस्वरूप आपको अपने जीवनसाथी से धन लाभ का सुख मिलेगा। आपको अपने बडे भाईयों से भी संबध खराब हो सकता है। आय में अपेक्षाकृत कमी होगी।

व्यवसाय एवं आर्थिक क्षेत्र | Business and Economic 

इस समय शनि के गोचर से साझेदारी के व्यापार से लाभ मिल सकता किन्तु साझेदार के ऊपर अंधा विश्वास न करें  क्योंकि आपका जो भी पार्टनर होगा वह अपने लाभ की कोशिश ज्यादा करेगा इस कारण आपसी  कटाक्ष का दौर चल सकता है अतः व्यापार कार्य में अपने बुद्धि और विवेक का परिचय दें । जानें ! आपकी कुंडली में साझेदारी के व्यापार से लाभ है या नहीं ?

शनि के सप्तम पर दृष्टि होने से यदि आप व्यापार करना चाहते है तो अवश्य ही साझेदारी में काम करने का मौक़ा मिलेगा। शनि की सांतवी दृष्टि लाभ भाव तथा दशमी दृष्टि धन भाव पर होगी जिससे आप हमेशा धन लाभ की चिंता से परेशान रहेंगे। आपको धन का लाभ तो होगा परन्तु धीरे धीरे अतः धैर्य से कोई काम करे परिणाम के लिए इन्तजार करना सीख ले अन्यथा मानसिक परेशानी का सामना करना पर सकता है। Business yoga in Birth Chart

शेयर मार्केट से जुड़े लोगों को पहले लाभ होगा परन्तु बाद में नुकसान हो सकता है अतः बहुत ही सोच समझकर शेयर बाजार में निवेश करें अन्यथा नुकसान हो सकता है । आपको झूठे आरोप का भी सामना करना पड़ सकता है। व्यापार को बढ़ाने के  लिये ऋण ले सकते हैं। 

शिक्षा और प्रतियोगिता | Education and Competition

शनि के गोचर से आपके अंदर आलस्य का संचार बढ़ेगा जिसके कारण पढ़ने में मन नहीं लगेगा । किसी भी पाठ्यक्रम को पूरा करने से पहले यह सोचेंगे की अभी तो बहुत दिन बचा है जल्दी क्या है और जब परीक्षा नजदीक आ जाएगा तो पढ़ना शुरू करेंगे समय का अभाव महशुस करेंगे घबरा जाएंगे और परीक्षा खराब हो जाएगा अतः आप से निवेदन है की आलस्य छोड़कर अपनी आंतरिक ऊर्जा का उपयोग करें सफलता अवश्य मिलेगी क्योंकि शनि अपने राशि में बैठकर आपको सफलता देने में समर्थ है। 

जो छात्र तकनीकी विषयों यथा इंजीनियरिंग, मेडिकल ( Medical) इत्यादि में शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं तो उनसे सलाह है की किसी भी विषय में जहां भी आप को समझने में दिक्कत आ रही हो तुरंत अपने गुरुजन का सहयोग लें क्योंकि इस समय ज्ञान अर्जन करने में कठिनाई आ सकती है ।

किसी टॉपिक को समझने के लिए आपको बहुत प्रयास करना पड़ेगा ( You have to do hard labor for success in Education and Competition ) अधिक मेहनत के बावजूद निराशा का सामना करना पर सकता है। कुछ लोगों को तो बिना किसी विशेष कारण के रुकावटों का सामना करना पड़ सकता है । आपके नजदीकी मित्र आपका अपमान करसकते हैं।

पारिवारिक एवं दाम्पत्य जीवन | Family Life

शनि ( Saturn) की यह स्थिति आपके वैवाहिक जीवन के लिए सुखकारी नहीं है इसका मुख्य कारण यह है की शनि स्वयं छठे भाव का स्वामी होकर दाम्पत्य भाव को देख रहा है अतः दाम्पत्य सुख में कमी करेगा । परन्तु इस बात को भी नहीं भूले की इस समय आपके पार्टनर आप से मजबूत स्थिति में होंगे अतः सम्बन्ध में अपने अहंकार और आलस्य को त्याग कर पारिवारिक दृष्टि से जीवन जीने का आनन्द लें ।  जो भी जातक विवाह के योग्य है और शादी ( Marriage )  करना चाह रहे है और उनकी कुंडली में गुरु द्वितीय या एकादश भाव में स्थित है तो निश्चित ही उनका विवाह संभव है। जानें ! कब होगी आपकी शादी ?

शनि गोचर 2022 | संतान सुख | Child Happiness

शनि आपकी राशि से पंचम भाव में प्रवेश कर, संतान सुख में कमी करेंगे क्योकि शनि छठे भाव का स्वामी है। संतान के कारण कष्ट संभावित है साथ ही गर्भवती महिलाओं को बेहद सावधानी बरतने की जरुरत है।

प्रेम सम्बन्ध | Relationship

पंचम वा प्रेम भाव में स्थित शनि नए प्रेम सम्बन्ध ( Love Relation ) उत्पन्न करने में सक्षम है परन्तु मानसिक पीड़ा भी दे सकता है परन्तु तब जब आप केवल प्रेम की ध्वनि ही सुनेंगे। पंचम भाव का शनि आपको अनैतिक कार्यों की ओर रूचि बढायेगा। आप एक साथ दो सम्बन्ध बनाने की कोशिश करेंगे जिसके कारण मानसिक आघात के शिकार हो सकते हैं।

शनि गोचर 2022 | स्वास्थ्य | Health

यदि स्वास्थ्य की बात करे तो शनि के गोचर से आपके स्वास्थ्य पर कोई विशेष असर नही पड़ेगा किन्तु घुटने में दर्द की शिकायत हो सकती है। अपनी पत्नी के स्वास्थ्य को लेकर खुद दुखी रह सकते हैं। मानसिक और बौद्धिक सन्ताप के शिकार हो सकते हैं। आँख और पेट को लेकर कोई समस्या आ सकती है। अक्टूबर के बाद जॉन्डिस की बीमारी हो सकती हैअतः खान पान पर विशेष ध्यान दें। नियमित योग से आप अपने को स्वस्थ्य रख सकते हैं।

4 thoughts on “शनि गोचर 2022 का कन्या राशि पर प्रभाव | Saturn Transit Effects on Virgo”

Leave a Comment

Your email address will not be published.