Muhurt

Tithi Born Native Nature : जानें ! जन्म तिथि के अनुसार आपका स्वभाव कैसा होगा?

Tithi Born Native Nature : जानें ! जन्म तिथि के अनुसार आपका स्वभाव कैसा होगा ? जन्म तिथि और जन्म तारीख दोनों अलग अलग है ऐसा समझना चाहिए। हिन्दू काल गणनानुसार एक मास में 30 तिथियाँ होतीं हैं, जो शुक्ल और कृष्ण इन दो पक्षों में बंटीं होती हैं। चन्द्र मास एक अमावस्या के अन्त […]

Tithi Born Native Nature : जानें ! जन्म तिथि के अनुसार आपका स्वभाव कैसा होगा? Read More »

Diwali 2023: जानें ! किस दिन, तिथि को है दिवाली? कब है शुभ मुहूर्त ?

Diwali 2023: जानें ! किस दिन, तिथि को है दिवाली? कब है शुभ मुहूर्त ?  इस वर्ष दीपावली 12 नवम्बर, दिन रविवार को है। ज्योतिर्निरबन्ध में कहा गया है — कार्तिक स्यासिते पक्षी लक्ष्मीर्निन्दा विमुञ्चति। स च दीपावली प्रोक्ता सर्वकल्याणरूपिणी।। अर्थात दीपावली त्योहार ( महालक्ष्मी पूजा ) कार्तिक कृष्ण पक्ष के अमावस्या तिथि में प्रदोषकाल

Diwali 2023: जानें ! किस दिन, तिथि को है दिवाली? कब है शुभ मुहूर्त ? Read More »

“Latta Dosh” in Marriage Muhurat create bad result after marriage

“Latta Dosh” in Marriage Muhurat create bad result after marriage. Almost all parents want the bride and groom’s wedding day to be absolutely free of any defects and other hurdles. In this context, “Latta Dosha” is considered inauspicious for marriage. ‘Latta’ means feet, which means if any planet hits the nakshatra fixed for the marriage

“Latta Dosh” in Marriage Muhurat create bad result after marriage Read More »

मुहूर्त में 27 योग का महत्त्व – जानें ! कौन से योग शुभ और कौन अशुभ ?

मुहूर्त में 27 योग का महत्त्व – जानें ! कौन से योग शुभ और कौन अशुभ ? पंचांग के पांच मुख्य अंग तिथि, वार, नक्षत्र, योग और करण होते हैं । इनमें से 27 योग का सम्बन्ध शुभ मुहूर्त के निर्धारण में किया जाता है। किसी भी जातक के जन्‍म के समय कौन सा योग

मुहूर्त में 27 योग का महत्त्व – जानें ! कौन से योग शुभ और कौन अशुभ ? Read More »

Auspicious Date and Timing for Joining New job, Promotion & Transfer 2024

Auspicious Date and Timing for Joining New job, Promotion & Transfer.  Auspicious times have been used for various purposes since ancient times. In Indian culture, sixteen rites from conception to death are also performed according to the auspicious time. The time fixed after almanac purification is called “auspicious time”. For this reason, it is generally

Auspicious Date and Timing for Joining New job, Promotion & Transfer 2024 Read More »

Chandra or Tara Bal – शुभ मुहूर्त निर्धारण में चंद्र और तारा बल का महत्त्व

Chandra or Tara Bal – शुभ मुहूर्त निर्धारण में चंद्र और तारा बल का महत्त्व. शुभ मुहूर्त का निर्धारण बिना चन्द्र और तारा बल के शुद्धि से नहीं हो सकता है इसलिए चंद्र और तारा शुद्धि अत्यंत ही आवश्यक विषय है। अतः किसी भी कार्य को शुरू करने से पूर्व तारा और चंद्र बल अवश्य

Chandra or Tara Bal – शुभ मुहूर्त निर्धारण में चंद्र और तारा बल का महत्त्व Read More »