Vrishabh Rashifal 2020 | वृषभ राशि वार्षिक भविष्यफल 2020

Vrishabh Rashifal 2020 |  वृषभ राशि वार्षिक भविष्यफल 2020

Vrishabh Rashifal 2020 | वृषभ राशि वार्षिक भविष्यफल 2020 | Taurus Sign Result 2020 वृष राशि के जातक  के लिए नववर्ष 2020 मंगलमय हो। नववर्ष के लिए मेरा आपको तथा आपके माता-पिता एवं परिवार के समस्त सदस्यों को दिल से शुभकामनाये। नए साल का आगमन होने वाला है हम सभी सोचते रहते है कि देखते है आने वाला वर्ष मेरे लिए कैसा होता है या यह साल तो मै बहुत ही परेशान रहा ईश्वर से प्रार्थना करता हूं की आने वाला वर्ष जरूर ही शुभ और इच्छापूर्ति करने वाला हो।.इस वर्ष मैं यह कार्य करूँगा या मेरा सब काम हो जाता तो अच्छा होता इत्यादि इत्यादि।

मैं आपको अपने इस राशिफल के माध्यम से बताने का प्रयास करूँगा कि नववर्ष 2020 किस कार्य के लिए अच्छा रहेगा और किस कार्य के लिए अच्छा नहीं रहेगा अथवा यह कार्य करना चाहिए या नहीं। मेरी कोशिश होगी कि मैं अपने ज्योतिषीय अनुभव के आधार पर आपके अंदर उठने वाले प्रश्नों का उचित समाधान कर सके ।

जन्मकुंडली में ग्रह की स्थिति | Planets Situation in Birth Chart

वृष राशि | Taurus Sign :- इ,उ,ए,ओ,व,वि,वे,वो

नववर्ष 2020 में आपके कुंडली में वर्ष के आरम्भ में गुरू अष्टम भाव में होंगे तथा 20 नवम्बर को भाग्य भाव धनु राशि में प्रवेश कर जाएंगे। शनि 24 जनवरी को धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश कर जाएंगे। राहु और केतु दूसरे तथा अष्टम भाव में होंगे। इसी प्रकार अन्य ग्रह भी पुरे साल सभी राशियों में भ्रमण करेंगे और उसका प्रभाव आपके ऊपर किसी न किसी रूप में अवश्य पड़ेगा।

अवश्य पढ़े ! राशिफल 2021

प्रस्तुत लेख के माध्यम से मेरा अथक प्रयास रहेगा कि आपके जीवन में आने वाले सभी पहलुओ पर यथा संभव प्रकाश डालें ताकि आपको भविष्य की योजना बनाने में मदद मिल सके। यदि आप लग्न कुंडली तथा चन्द्र कुंडली दोनों की राशियों के फल को पढ़कर कोई कार्य योजना बनाते है तो अच्छा रहेगा। यह राशिफल वैदिक ज्योतिष के आधार पर किया गया है

राहु गोचर 2020 का वृष राशि पर प्रभाव

वैदिक ज्योतिष पर आधारित भविष्यफल पढ़ने के बाद आप वर्ष 2020 में होने वाली अनेनानेक घटनाओं घटना-दुर्घटना से पूर्व में ही परिचित हो जाएंगे और और आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है की आप नए वर्ष की पूरी योजना बनाने में सफल रहेंगे। आप जन्मकुंडली के लग्न की राशि तथा चंद्र राशि दोनों का फल अवश्य पढ़े पुनः कोई फैसला ले तो अच्छा रहेगा।

वृष राशिफल 2020

सामान्य फल 2020 | General Prediction

यह वर्ष आपके लिए मिश्रित प्रभाव देने वाला है। धन के मामले में यह साल कुछ नया सौगात दे सकता है। यदि साझेदारी में कोई काम कर रहे है तो जनवरी माह तक सावधान रहने की जरुरत है। संतान-पक्ष से ख़ुशियाँ मिल सकती हैं। जीवनसाथी से  तालमेल बनाकर चलें तो अच्छा रहेगा जीवनसाथी का स्वास्थ्य कुछ खराब हो सकता है।माता  के प्रॉपर्टी को लेकर कोई विवाद हो सकता है। परिवार के सभी सदस्यों के प्रति सकारात्मक सोच रखे।

पेट के रोगों के प्रति बिल्कुल ही लापरवाही न बरतें यह महीना आपको हॉस्पिटल तक पंहुचा सकता है।  गैस, बदहजमी से जुड़ी समस्याएँ परेशानी में सकती है। जनवरी से मार्च तक आपकी आर्थिक स्थिति सुदृढ़ होगी। अप्रैल महीना में खर्च बढ़ेगा सोच समझकर खर्च करे तो ठीक रहेगा।  नौकरी में परिवर्तन हो सकता है। नौकरी या व्यावसायिक कार्यों के चलते आपको अपने घर से दूर जाना पड़ सकता है। आपके व्यावसायिक स्थिति में परिवर्तन होगा आपकी आर्थिक स्थिति  सुधरेगी। साझेदारी में काम करे परन्तु संभल कर आपके पार्टनर आपके ऊपर हावी हो सकता है। नए प्रेम संबंध का आनंद लेने का योग बन रहा है। एक दूसरे के साथ आप रोमांटिक क्षण का एहसास करेंगे।

वृष राशिफल : पारिवारिक जीवन | Family life 

नए वर्ष में आपका पारिवरिक जीवन उत्तम  रहेगा। वृष राशि वालो के लिए शनि योगकारक ग्रह है तथा जनवरी तक शनि अष्टम भाव में होंगे उसके बाद भाग्य स्थान में चले जाएंगे इस स्थान में आने पर पारिवारिक व्यवसाय तथा भाग्य को लेकर दिक्कत का सामना करना पर सकता है। पारिवारिक दृष्टि से कुछ परेशानी होगी परन्तु धीरे धीरे सब ठीक हो जाएगा। परिवार के सभी सदस्यों का सहयोग मिलेगा। संतान-पक्ष से ख़ुशियाँ मिल सकती हैं।।

जीवनसाथी से तालमेल बनाकर चलें तो अच्छा रहेगा जीवनसाथी का स्वास्थ्य कुछ खराब हो सकता है। इस वर्ष घर में विलासिता सम्बंधित वस्तुएँ लाने  की उत्सुकता रहेगी इसलिए अपने जेब का ध्यान रखकर ही खर्च करें।

जीवनसाथी के साथ आपका सम्बन्ध मधुर रहेगा। आप यौन सुखों का भरपूर आनंद लेंगे किन्तु अनावश्यक वाद-विवाद से बचें। परन्तु जब रिश्तो में खटास होगा तो आप अवैध सम्बन्ध में लिप्त होकर आनंद लेंगे परन्तु बाद में इसका असर आपके पारिवारिक जीवन पर पड़ेगा और सितंबर के बाद पकडे भी जा सकते है। एक दूसरे का ख्याल रखे, तो सभी समस्या अपने आप ही हल हो जाएगा । वर्ष के दूसरे भाग से आप अपने परिवार के साथ ख़ुशियाँ मना सकेंगे। यह समय आपके लिए खुशियो का रहेगा।

माता  के प्रॉपर्टी को लेकर कोई विवाद हो सकता है। पिता के लिए यह वर्ष खर्चे का रहेगा उन्हें अपने स्वास्थ्य को लेकर भी खर्च करना पड़ सकता है। समय पर इलाज कराना ही बेहतर विकल्प होगा। परिवार के सभी सदस्यों के प्रति सकारात्मक सोच रखे सब अनुकूल रहेगा तथा पिता और गुरुजनों से सम्मान और सहयोग प्राप्त होगा।

Vrish Rashifal 2020 : स्वास्थ्य | Health 

स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से यह साल मिलाजुला फल देगा। दूसरे तथा तीसरे स्थान पर शनि की दृष्टि होने से आँखों में,  दांतो में दर्द, तथा सर्वाइकल जैसी बिमारी का सामना करना पड़ेगा। मौसम बदलते ही यह विकराल रूप ले सकता है। आपको गला सम्बन्धी शिकायत भी हो सकती है।

जून महीना में पेट के रोगों के प्रति बिल्कुल ही लापरवाही न बरतें यह महीना आपको हॉस्पिटल तक पंहुचा सकता है।  गैस, बदहजमी से जुड़ी समस्याएँ परेशानी में ला सकती है इसलिए अपने खान-पान पर विशेष ध्यान दें। मसालेदार खाना खाने से परहेज करें। व्यायाम अवश्य करे प्राणायाम को अपना जीवन साथी बना ले। गर्दन का व्यायाम नियमित करे तो अच्छा रहेगा।

Vrish Rashifal 2020 : धन संपत्ति | Wealth

धन-सम्पत्ति के मामले में आपके लिए यह साल मिश्रित फल देने वाला है। जनवरी से मार्च तक आपकी आर्थिक स्थिति सुदृढ़ होगी। अप्रैल महीना में खर्च बढ़ेगा सोच समझकर खर्च करे तो ठीक रहेगा।  मई से सितम्बर से आर्थिक मामले में और तेजी से सुधार होगा। परन्तु पुनः अक्टूबर में कोई काम संभलकर ही करे तो ठीक रहेगा।

इस समय आपको कर्ज भी लेना पड़ सकता है। पुराने मकान के साज-सज्जा पर खर्च करना पड़ सकता है। शेयर बाज़ार में निवेश सोचसमझकर करें तो ठीक रहेगा। अपने ख़र्चों पर नियंत्रण रखे। जरुरत के अनुसार खर्च करें अच्छा रहेगा । धन आगमन के  नए स्रोत बन सकते हैं पराक्रम की बृद्धि होगी।

Vrish Rashifal 2020 : नौकरी | Job / Profession

यदि आप नौकरी कर रहे है तो जरा संभल जाए। नौकरी में परिवर्तन हो सकता है। नौकरी या व्यावसायिक कार्यों के चलते आपको अपने घर से दूर जाना पड़ सकता है। सितंबर के बाद आपको अवश्य ही नौकरी के शुभ अवसर मिलेंगे। इसका मुख्य कारण है की वृहस्पति की दृष्टि आपके कर्म स्थान पर है।

इस साल आपके कर्म का स्वामी शनि भाग्य स्थान में बैठा है इस कारण नौकरी में परेशानी नहीं हो सकती है। नौकरी में षड्यंत्र के शिकार हो सकते है। परन्तु घबराएं नहीं समस्या का समाधान भी निकल जाएगा। अपने अधिकारी का विशवास जीतने का प्रयास करना फायदेमंद रहेगा।

सरकारी नौकरी वाले यह न समझे की मै तो सरकार का आदमी हूँ मेरा क्या होगा ? सावधानी के साथ-साथ अपने कर्त्तव्य का पालन तन मन से करें। यह समय आपके लिए काफी परिश्रम करने वाला होगा और आप जितना परिश्रम करेंगें आपकी उतनी ही भाग्यवृद्धि होगी क्योंकि शनि इस समय आपके भाग्य भाव में गोचर कर रहा है।

Vrish Rashifal 2020 : व्यवसाय | Business

आप उद्यमी बने सफलता कदम चूमेगी। जल्दबाजी में कोई फैसला न ले। सावधानीपूर्वक कोई फैसला लेना उचित होगा। अचानक व्यवसाय में रुकावट आ सकती है। सोचा हुआ काम ठंढे बस्ते में जा सकता है।

अक्टूबर  माह से आपके व्यावसायिक स्थिति में परिवर्तन होगा आपकी आर्थिक स्थिति सुधरेगी। साझेदारी में काम करे परन्तु संभल कर आपके पार्टनर आपके ऊपर हावी हो सकता है आपस में हॉट टॉक हो सकता है अतः बुद्धिमानी से ठंढे दिमाग से काम करे तो ठीक रहेगा। आपके सभी कार्य धीरे धीरे पूरा होगा बस केवल धैर्य और ईमानदारी का परिचय दे।

निवेश किए हुए धन का लाभ मिलेगा। शेयर बाज़ार या ज़मीन संबंधी कार्य में पैसा लगाने से लाभ मिल सकता है। व्यापार वृद्धि के लिए कुछ नया सोचे और नयी योजना बनाये। छोटे से बड़े व्यवसाय के लिए सोचे। नए व्यापार विस्तार से पहले उसमे हानि लाभ का जरूर ध्यान रखे।

Vrish Rashifal 2020 : प्रेम-संबंध | Love Relation

यदि आप अकेले हैं तो किसी नए प्रेम संबंध का आनंद लेने का योग बन रहा है। एक दूसरे के साथ आप रोमांटिक क्षण का एहसास करेंगे। परन्तु इतना रोमांटिक न हो जाए की जेल की हवा खानी पड़े क्योकि प्रेम सेक्स का रूप भी ले सकता है। प्रेम सम्बन्ध वर्ष के अंतिम तीन महीने में लोगो के सामने आ जाएगा अतः संभलकर रहें। पुराने प्रेम संबंधों( Relationship)  में मज़बूती आने की प्रबल संभावना है।

प्रेम में अपनी मर्यादा का अवश्य ध्यान रखें क्योकि गुरु लाभेश के साथ-साथ अष्टमेश भी है और अष्टमेश होकर अष्टम भाव में स्थित है अतः गुप्त सम्बन्ध के साथ-साथ रिश्तो को तोड़ने का भी कार्य करता है।

जानें! शनि का गोचर 2021 में आपको क्या देने वाला है ?

 क्या करें क्या न करें | What to do or not

  • आपके लिए मंगल और बुध मारकेश है अतः यदि मंगल और बुध गोचर में अशुभ राशि में हो या अपने नीच राशि क्रमशः  कर्क और मीन  में हो तो कोई महत्वपूर्ण निर्णय सोच समझकर ही लेना चाहिए।
  • गुरु अष्टमेश है और सितंबर में अष्टमेश होकर अष्टम भाव में होगा उस समय स्वास्थ्य या केश मुकदमा से सम्बंधित कोई परेशानी होगी इसके लिए आप वृहस्पति का व्रत करे और भगवान् विष्णु का आशीर्वाद ले।   
  • हनुमान चालीसा का प्रतिदिन पाठ करना श्रेष्ठकर होगा।
  • अपने जीवनसाथी के प्रति श्रद्धा और विशवास बनाये रखे उनकी भावना को समझे और सम्मान करना सीखे।
  • शुक्रवार को खीर बनाकर गाय को खिलाये धन धन्य की वृद्धि होगी।
  • सफ़ेद तथा क्रीम रंग का प्रयोग ज्यादा करे कार्यो में सफलता मिलेगी।
मेष राशिफल 2021वृष राशिफल 2021मिथुन राशिफल 2021कर्क राशिफल 2021सिंह राशिफल 2021कन्या राशिफल 2021
तुला राशिफल 2021वृश्चिक राशि 2021धनु राशिफल 2021मकर राशिफल 2021कुम्भ राशिफल 2021मीन राशिफल 2021

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.