Makar or Capricorn Rashifal 2022 | मकर राशिफल 2022 – Astroyanta

Makar or Capricorn Rashifal 2022 | मकर राशिफल 2022 - AstroyantaMakar or Capricorn Rashifal 2022 | मकर राशिफल 2022, आपका नववर्ष  मंगलमय हो। नव वर्ष में आपके अन्तःचेतना में अनेक सवाल उठ रहे होंगे जैसे यह वर्ष मेरे लिए कैसा रहेगा ?मेरी पदोन्नति होगी या नहीं ? क्या इस साल शादी होगी ?क्या मेरा प्यार मुझे मिलेगा ? इत्यादि इत्यादि। आइए ग्रहों की स्थिति के आधार पर आपके प्रश्नों के उत्तर जानने का प्रयास करते है।

मकर राशिफल 2022 के लिए ग्रहों की स्थिति

2022 में गुरु कुंभ राशि (मकर राशि में बृहस्पति का गोचर) में होगा और 13 अप्रैल को मीन राशि में प्रवेश करेगा और पूरे वर्ष इसी राशि में रहेगा। गुरु आपकी की राशि से धन और परिश्रम स्थान में होंगे भ्रमण करेंगे । शनि देव का गोचर मकर राशि में रहेगा लेकिन 29 अप्रैल को कुंभ राशि में जाएगा और 12 जुलाई को फिर से मकर राशि में आ जाएगा और पूरे साल इसी राशि में रहेगा। शनिदेव आपके लग्न में गोचर करेंगे ।

आइये जानते है की साल 2022 में मकर राशि के जातकों का राशिफल कैसा होगा। वैदिक ज्योतिष पर आधारित भविष्यफल पढ़ने के बाद आप साल 2022 में होने वाली सभी प्रकार के घटना-दुर्घटना से पूर्व में ही परिचित हो जाएंगे और आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है की आप नए वर्ष की पूरी योजना बनाने में सफल रहेंगे।

उसी प्रकार अन्य ग्रह भी सभी राशियों में संचार करेगा। और उसका प्रभाव अल्पकाल के लिए ही सही आपके ऊपर अवश्य पड़ेगा। मेरी कोशिश यही होगी आपके जीवन में आने वाले सभी पहलुओ पर यथा संभव प्रकाश डालें ताकि आपको भविष्य की योजना बनाने में मदद मिल सके। यह भविष्यवाणी चन्द्र राशि तथा वैदिक ज्योतिष के आधार पर किया गया है।

Makar or Capricorn Rashifal 2022 | मकर राशिफल 2022 - Astroyanta

मकर राशि नामाक्षर :  भो,ज,जी, खी,खू,खे,खो,ग,गी 

आइये जानते है नववर्ष 2022 में मकर राशि के जातकों का राशिफल कैसा होगा। वैदिक ज्योतिष पर आधारित भविष्यफल पढ़ने के बाद आप साल 2022 में होने वाली सभी प्रकार के घटना-दुर्घटना से पूर्व में ही परिचित हो जाएंगे और आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है की आप नए वर्ष की पूरी योजना बनाने में सफल रहेंगे।

Makar Rashifal 2022 | मकर राशिफल 2022

पारिवारिक जीवन | Family Life

आपके लिए शनि लग्नेश तथा मारकेश दोनों है और इस समय साढ़ेसाती भी चल रही है। शनि सप्तम भाव को देख भी रहा है अतः दाम्पत्य जीवन में क्लेश बढ़ेगा। इस समस्या के समाधान के लिए प्रतिदिन ॐ शं शनैश्चराय नमः का मानसिक जप करें सब ठीक हो जायेगा। यदि जन्म कुन्डली में शनि की महादशा या अन्तर्दशा चल रही हो तो आपको ज़्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। शनि लग्नेश तथा धनेश होकर लग्न भाव में स्थित है इसलिए इस वर्ष आपको अपने पुरुषार्थ के बल पर सामाजिक प्रतिष्ठा मिलेगी।

आपका अहंकारी स्वभाव तथा गुस्सा पर नियंत्रण न रख पाने के कारण पारिवारिक जीवन में कड़वाहट तथा जीवनसाथी के साथ अनबन हो सकती है। छोटे भाई-बहनों के साथ जमीन-जायदाद को लेकर वाद विवाद, हो सकता है। आप अपने क्रोध पर नियंत्रण रखे तुरंत प्रतिक्रिया देने से बचें क्योकि वाणी दोष के कारण समस्या विकराल रूप धारण कर सकता है। परिवार के सदस्यों के बीच मनमुटाव हो सकता है बुद्धि से काम लेने में ही भलाई है। आपके ऊपर परिवार का दायित्व बढ़ सकता है। पिता के साथ वैचारिक मतभेद हो सकता है जिसके कारण आप तनाव में रह सकते हैं।

धन सम्पत्ति | Wealth

इस साल धन के मामलों में आपको ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है। फिर भी अपने साझेदार से संभलकर रहना ही उचित होगा। वैसे आपको कभी कभार उधार पैसा लेने की जरूरत पड़ सकती है। अकारण धन बर्बाद न करें। दूसरों की मदद करें परन्तु अपनी हैसियत के अनुसार ही।.

व्यापार उन्नति होने से आपको धन लाभ होगा, साथ ही पैतृक सम्पत्ति का भी पूरा लाभ आपको मिलेगा। ग्रहों के अनुसार वर्ष की शुरुआत में नए आय के स्रोत ढूंढने में सफल रह सकते हैं। आप इस अवधि में महंगी वस्तुओं को भी खरीद सकते हैं या फिर उन चीजों में निवेश कर सकते हैं जैसे कि संपत्ति, जमीन, वाहन आदि। बिजनेस के सिलसिले में बनायी गई योजना भविष्य में कारगर साबित होंगी।

नौकरी पेशा | Job / profession

इस साल आपको नौकरी में नये मौके प्राप्त होंगे। यदि नौकरी की तलाश में है तो यह बहुत अच्छा अवसर है आपको नई नौकरी मिल सकती है अतः नौकरी के लिए तन-मन और धन लगा दीजिये सफलता आपके हाथो में होगा।( when I will get job)
अधिकारियो का सहयोग मिलेगा परन्तु कार्य का दायरा बढ़ेगा । कार्य के सिलसिले में घर से बाहर भी जाना पड़ सकता है । यदि आपकी कुंडली में दशा अशुभ ग्रहों की चल रही है आपको कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। यदि नौकरी चेंज करना चाह रहे है तो आपको वह अवसर मिलने वाला है परन्तु सोच समझकर ही कोई निर्णय ले तो अच्छा रहेगा। नौकरी में तरक्की ( Promotion) 

व्यवसाय | Business

व्यवसाय के दृष्टि से यह साल आपके लिए शुभ रहेगा। व्यापार में नए साझेदार भी मिल सकते हैं और आपको इसका लाभ लेना चाहिए। वस्तुतः इस साल का नफा नुकसान आपके पुरुषार्थ पर निर्भर करेगा की आपने अपने पुरुषार्थ का कितना उपयोग किया है। राशि स्वामी शनि अपनी राशि तथा लग्न भाव में है यह स्थिति व्यापार में लाभ प्रदान करने वाला है। देर हो सकती है परन्तु अन्धेर नहीं। यदि साझेदारी में कोई कार्य कर रहे है तो थोड़ा सावधान रहें। व्यर्थ विवाद से बचें। उद्यमेन सिध्यन्ति कार्याणि न मनोरथैः अर्थात कार्यो की सिद्धि मेहनत करने से होती केवल मन में सोचने या योजना बनाने से नहीं।

Makar or Capricorn Rashifal 2022 | मकर राशिफल 2022 - Astroyanta

प्रेम तथा यौन संबंध |Love and Sexual Relation

रोमांस की दृष्टि से यह वर्ष अच्छा है। आप जहाँ कार्य कर रहे है वहीँ से  प्यार का सिलसिला शुरू होने वाला है आप उसका आनंद लीजिये परन्तु कार्य प्रभावित नहीं होना चाहिए। अप्रैल के बाद आप अपने प्यार का इजहार विवाह के रूप में भी कर सकते है “Love marriage” is possible in this year) परन्तु आप संकोच भी करेंगे क्योंकि आप में समाज के विरुद्ध जाने की हिम्मत नहीं है परन्तु यदि प्यार को पाना है तो आपको हिम्मत तो दिखानी ही पड़ेगी कोई बात नहीं प्यार किया है तो डरना कैसा ?

यौन सुख ( Sex Happiness)  के प्रति कुछ जल्दीबाजी रहेगी इस पर नियंत्रण रखें। इस वर्ष यौन सुख का पूरा आनंद लेने का योग बन रहा है। आरोप प्रत्यारोप तथा अपयश जैसे स्थितियों का भी सामना  करना पड़ सकता है। जीवनसाथी का पूर्ण सहयोग मिलेगा परन्तु तब जब आप सहयोग करेंगे।

स्वास्थ्य (Health)

इस वर्ष लग्नेश लग्न में स्थित है अतः स्वास्थ्य सामान्य रहने वाला है फिर भी आप अपने स्वास्थ्य के प्रति सतर्क रहें लापरवाही न बरतें, ज्यादा टेंशन न लें, मन से मजबूत और ख़ुश रहिये सब ठीक रहेगा। अपना स्वास्थ्य अच्छा रखने के लिए कार्य और आराम दोनों के मध्य सामंजस्य बनाकर चले। अपने खान-पान का ध्यान रखें, फ्रेश फ्रूट, वैजीटेबल्स और जूस पिएं, जिससे आप स्वस्थ रहेंगें| व्यायाम को अपनी दिनचर्या में शामिल कर लें अच्छा रहेगा।

Makar or Capricorn Rashifal 2022

क्या करें क्या न करें | What to Do or Not 

  1. आपके राशि का स्वामी शनिदेव हैं अतः आपको शनिदेव की उपासना  अवश्य करनी चाहिए।
  2. “शनि स्तोत्र” का नियमित पाठ करें।करे
  3. शनिदेव के उद्धार करने वाले हनुमानजी है अतः मान-सम्मान  धन-दौलत तथा उत्तम स्वास्थ के लिए “हनुमान चालीसा” का पाठ करना शुभ रहेगा।
  4. स्वास्थ्य के लिए “बजरंगबाण” का पाठ करें।
  5. यदि शनि की दशा या अन्तर्दशा चल रही है तो मॉस, मदिरा का बिल्कुल ही सेवन न करें।
  6. ॐ शं शनैश्चराय नमः का नियमित पाठ करें।
  7. “काले घोड़े के नाल” या “नाव के कील की अंगूठी ” धारण करने से कार्यो में सफलता मिलेगी।
  8. दुसरो की बुराई करने से बचें।

Leave a Comment

Your email address will not be published.