गुरु का धनु राशि में गोचर 2020 : मेष राशि पर प्रभाव

गुरु का धनु राशि में गोचर 2020 : मेष राशि पर प्रभाव

गुरु वा बृहस्पति का गोचर ज्योतिष शास्त्र में शुभ फल प्रदान करता है। गुरु संतान, धन,ज्ञान, मान-सम्मान विकास इत्यादि का कारक ग्रह है। गुरु ज्योतिष शास्त्र में देव गुरु के रूप में जाने जाते हैं। जिस जातक के जन्मकुंडली में गुरु ग्रह का विशेष प्रभाव होता है वैसा जातक तन-मन और धन से धार्मिक एवं आध्यात्मिक कार्यों में अभिरुचि रखता है।

गुरु ग्रह धनु व मीन राशि के स्वामी हैं। ये कर्क राशि में उच्च के तथा मकर राशि में नीच के होते है। चंद्रमा,सूर्य और मंगल इनके मित्र ग्रह हैं। शुक्र तथा बुध के साथ इनकी शत्रुता होती है। राहु-केतु व शनि के साथ इनका समत्त्व संबंध है। ये ऐसे ग्रह है तो जातक को समस्या के समय धैर्य और विवेकशील बनाता है।

गुरु ग्रह जातक को करियर में उन्नति, स्वास्थ्य लाभ, मजबूत आर्थिक स्थिति, विवाह एवं संतानोत्पत्ति जैसे शुभ फल में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यदि जन्म कुंडली में गुरु/बृहस्पति ग्रह केंद्र, त्रिकोण या उच्च का है या बलवान है तो अन्य ग्रहों की स्थिति ठीक नहीं होने पर भी जातक को गंभीर परेशानियों से बचाता है।

गुरु का राशि परिवर्तन 2020

गुरु अथवा बृहस्पति ग्रह के राशि परिवर्तन से जातक के जीवन पथ में अनेक परिवर्तन होते है। वर्ष 2019 में गुरु 5 नवंबर को वृश्चिक राशि से धनु राशि में प्रवेश किया है तथा इस राशि में 19 नवम्बर 2020, तक भ्रमण करेंगे। इसके बाद गुरु मकर राशि में प्रवेश करेगा ।

आइये जानते है कि गुरु का वृश्चिक राशि से धनु में जाने से आपके जीवन के विभिन्न क्षेत्रों यथा – माता-पिता, परिवार, भाई-बंधू, धन-दौलत, वाणी, वैवाहिक जीवन, भाग्य, प्रेम, व्यवसाय, शिक्षा, केश-मुक़दमा, यात्रा, खर्च, विदेश भ्रमण इत्यादि पर क्या-क्या प्रभाव पड़ेगा।

मेष राशि और गुरु ग्रह का प्रभाव

मेष राशि के जातक के लिए गुरु नवम और द्वादश भाव का स्‍वामी होकर अपने ही राशि वा भाग्य स्थान में गोचर करेगा गुरु का यह गोचर आपकी राशि के नवम भाव में हो रहा है यह भाव अध्‍यात्‍म, धर्म, कानून, उच्‍च शिक्षा, ज्ञान और भाग्‍य का कारक है परिणामस्वरूप जातक स्वयं के परिश्रम से अपने भाग्य का निर्माण करेगा। यह समय कैरियर और व्यक्तिगत जीवन के लिए अच्‍छा रहेगा। स्वयं के मेहनत से सामाजिक जीवन में आपका मान-सम्‍मान बढ़ेगा।

घर परिवार पर गुरु गोचर 2020 का प्रभाव

गुरु गोचर ( Jupiter Transit ) के समय पारिवारिक जीवन में खुशियाँ बनी रहेगी । घर मे कोई मांगलिक कार्य हो सकता है साथ ही संतान सुख की प्राप्ति भी हो सकती है। आप अपने परिवार के साथ किसी पवित्र स्‍थान अथवा पर्यटक स्थल पर घूमने जा सकते है। आप लंबी यात्रा पर जा सकते हैं। माता-पिता का आशीर्वाद आपको मिलते रहेगा। समाज में पिता की प्रतिष्‍ठा में वृद्धि होगी।अध्‍यात्‍म के प्रति रूचि बढ़ेगी। आप भी परिवार के प्रति अपनी जिम्‍मेदारियों को समझें।

इस समय समाज में अपने मान-सम्‍मान और प्रतिष्‍ठा को बढ़ाने के लिए अनेक अवसर प्राप्‍त होंगें। आपके अंदर मानवीय संवेदनाओं का संचार बढ़ जाएगा तथा इंसानियत हावी हो जाएगी। समाज में पिता को कोई प्रमोशन या ऊंचा पद ( Promotion yoga in horoscope) मिल सकता है। इस समय परिवार के सदस्‍यों के साथ आपका सम्बन्ध अच्छा बना रहेगा। दाम्पत्य जीवन सुखद अनुभूति की पराकाष्ठा पर होगी। परन्तु आपसी तालमेल बिठाने की जरूरत पड़ेगी। नए प्रेम सम्बन्ध बनने का योग बन रहा है। ( Love marriage yoga in horoscope)

व्यवसाय पर गुरु गोचर 2020 का प्रभाव

2020 में गुरु का धनु राशि में गोचर आपके प्रोफेशनल लाइफ के लिए बहुत अच्छा रहेगा। यह गोचर पर आपको व्यावसायिक सफलता दिलाने में मददगार होगा। आप पूरी मेहनत के साथ अपना काम करेंगें। आपके प्रोफेशनल जीवन में भी बेहतर बदलाव आने की संभावना है। निवेश करने से पहले अच्छी तरह से अन्वेषण कर लें तभी निवेश करें ।

इस समय कार्यक्षेत्र में किया गया कोई भी प्रयास सकारात्मक परिणाम देने मे सक्षम होगा। आप बेहतर काम कर पाएंगें वो भी पूरे जोश के साथ। आप अपने करियर में बेहतर प्रदर्शन कर पाएंगें। यदि कोई भी काम रुका हुआ तो अब आपको उसमें सफलता मिल सकती है। कोई नया काम करने का अवसर मिल सकता है।इस समय भविष्य के लिए बनाई गई योजना भविष्य में शुभ परिणाम देने में सक्षम होगा।

धन पर प्रभाव | Effect on Wealth

आर्थिक पक्ष को लेकर ये समय बहुत महत्‍वपूर्ण होगा। मेष राशि के जातकों के लिए गुरु का गोचर आ‍र्थिक रूप से बहुत लाभ प्रदान करेगा। निश्चित ही आपकी आय में वृद्धि होगी । आप की रुचि धार्मिक और अध्‍यात्‍मिक कार्यों के प्रति बढ़ेगी तथा इस कार्य हेतु आप खर्च भी करेंगे।

इस समय पैतृक संपत्ति का लाभ मिलने का योग बन रहा है।आय के स्रोतों में बढोत्तरी होगी। धन लाभ के लिए किया गया प्रयास सार्थक होगा। 2020 में गुरु के गोचर से न केवल आपकी आय के साधन बढ़ेंगें बल्कि आपकी आर्थिक स्थिति भी सुदृढ़ होगी। आपकी आर्थिक स्थिति में परिवर्तन होगा और आय में भी बढ़ोत्तरी का द्वार खुलेगा।

स्वास्थ्य के ऊपर प्रभाव | Effect on Health

इस समय चूंकि गुरु 12वें भाव का स्वामी होकर भाग्य स्थान में गोचर करते हुए लग्न को देखेगा अतः स्वास्थ्य सम्बन्धी कुछ समस्या आ सकती है अतःअपनी सेहत का ख्‍याल रखें। किसी भी छोटी-मोटी बीमारी को नज़रअंदाज़ ना करें नहीँ तो बाद में पछताना पड़ सकता है। पैर में दर्द की शिकायत हो सकती है।यदि डाइबिटीज की बीमारी से पहले से ही पीड़ित हैं तो सावधान हो जाएं बढ़ भी सकता है। खान पान पर विशेष ध्यान रखें। बेहतर स्वास्थ्य के लिए योग अवश्य करें। सूर्य नमस्कार आपके लिए रामबाण औषधि होगा।

प्रेम सम्बन्ध | Love Relationship

गुरु का गोचर प्रेमी-प्रेमिका के लिए शुभ रहेगा । इस गोचर के दौरान प्रेमी-युगल का मन और तन दोनों से रोमांटिक बनें रहेंगे। आप दोनों लम्बी यात्रा पर घूमने के लिए जा सकते हैं। यदि पहले से प्यार चल रहा है तो आप दोनों अपने माता पिता से शादी ( Love Marriage Yoga in horoscope) की भी बात कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.