सप्तम भाव में मंगल का फल | Mars in seventh House

सप्तम भाव में मंगल का फल | Mars in seventh House | सातवें भाव / स्थान में मंगल होने से व्यक्ति अपने स्त्री से दुखी, वात रोगी, क्रोधी, कटुभाषी, ईर्ष्यालु एवं धननाशक होता है। इस भाव में मंगल होने से मंगल दोष भी होता है और इस मांगलिक दोष के कारण दाम्पत्य जीवन में परेशानी आती है। मंगल यहाँ पर शुभ परिणाम नहीं देता है।

सप्तम भाव में मंगल और परिवार | Mars and Family

सप्तम भाव में मंगल जातक को साझेदारी से कष्ट, वैवाहिक जीवन में असंतोष अथवा परिवार से दूर करता है। ऐसे जातक को जीवन में समय-समय पर अनेक चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। अपने आयु के 28 वें वर्ष में पारिवारिक समस्या से गुजरता है इसमें उसके परिवार में किसी सदस्य का स्वास्थ्य विशेष रूप से खराब हो सकता है। मंगल आपके विवाह में विलम्ब का कारण बनने के साथ ही आपके दाम्पत्य जीवन के दु:ख का कारण भी बन सकता है।

सप्तम भाव में मंगल का फल | Mars in seventh House

पत्नी / जीवनसाथी के साथ आपका व्यवहार बहुत मधुर नहीं रह सकता अतः मधुर सम्बन्ध बनाने में आपको ही अहम भूमिका निभाने पड़ेंगे।  इसके कारण आपको  मुकदमेबाजी का भी सामना करना पड़ सकता है। आपको विभिन्न मामलों में अदालत में खींचा जा सकता है। आपके बडे भाई बहनों का आपके पिता के साथ तनावपूर्ण सम्बंध रह सकता है। यदि कुंडली के अन्य ग्रह प्रभावित कर रहा हो तो इस स्थान का मंगल दो शादी का योग भी बनाता है। अपने पत्नी के लिए आपका स्वभाव कभी-कभी हिंसात्मक रूप भी ले सकता है खासकर तब जब कन्या लग्न हो। कन्या लग्न का मंगल की कभी-कभी पति / पत्नी में अलगाव / तलाक ( Divorce ) भी करा देती है।

सप्तम भाव में मंगल चित्र में दृष्ट स्थिति पैदा करती है

सप्तम भाव में मंगल

मंगल और मनोविज्ञान | Mars in Seventh House and Psychology

आप क्रोधी स्वभाव के होंगे। आपकी वाणी भी कठोर हो सकती है। सप्तम का मंगल जातक को अनैतिक कार्यों में लिप्त कराता है। आप नशे आदि व्यसन के भी शिकार हो सकते है। वैवाहिक जीवन में आने वाली समस्याओं के कारण आप मानसिक रूप से परेशान रह सकते है। मंगल की यह स्थिति कभी-कभी ईर्ष्या की भावना भी देती है। यहाँ मंगल बेचैनी और चिडचिडापन देने में सहायक होगा। मंगल आपको तार्किक बनाता है आप लोगो के साथ तर्क पूर्ण बहस करने में पूर्ण समर्थ होंगे।

मंगल और स्वास्थ्य |  Health

आप वात रोग से होने वाली बीमारियों के चपेट में आ सकते है। आपको पेट से सम्बंधित कुछ तकलीफें रह सकती हैं।

 आर्थिक एवं व्यावसायिक स्थिति | Economic condition

सप्तम भाव में मंगल होने से आपको आर्थिक तथा व्यावसायिक सफलता के लिए कडी मेहनत करनी पडेगी। मंगल की यह स्थिति आर्थिक लिहाज से अच्छा नहीं माना गया है। अत: आपका धन व्यर्थ के कामों में भी खर्च हो सकता है। यदि आपके सातवें भाव में मंगल है और आप साझेदारी में कोई काम कर रहे है तो आप को साझेदार से कष्ट हो सकता है अतः बुद्धि विवेक से काम लेने में ही समझदारी होगी।

21 thoughts on “सप्तम भाव में मंगल का फल | Mars in seventh House”

    1. me vastu pe study kar raha hu. kuchh results interesting mile hai. aap chahe to discuss kar sakte hai.

  1. Mera Naam Ritesh hai Mai y jaanana cahta hu ki meri job Lage hi ki nhi
    My details
    Dob 8 5 1999
    Time 4:35 morning
    Up

  2. अब ईश्वर ने इस कुंडली के साथ मुझे पैदा किआ, तो क्या करूँ, जिन छोड़ दू या मर जाऊ। आपके अनुसार न धन है कुंडली में न पत्नी सुख फिर जी के क्या करू। कृपा उपाय बताये

    1. केवल सप्तम भाव में मंगल का परिणाम देखकर अपने अंदर ऐसे विचार धारण नहीं करें आप अपनी कुंडली किसी ज्योतिषी से दिखाकर कर ही किसी परिणाम पर मंथन करें

    2. सीमा गुप्ता

      ऐसा नहीं है, मेरी मम्मी के भी सातवें स्थान पर मंगल है, वो क्रोधी भी नहीं है और मेरे पापा मम्मी एक आदर्श पति पत्नी हैं ।

      1. यह एक सामान्य फल है प्रत्येक कुंडली में ग्रह की स्थितियां अलग अलग होती अतः किसी भी निष्कर्ष से पहले कुंडली की व्यक्तिगत परीक्षण करें न की सामान्य।

  3. मेरा नाम जितेंद्र है
    जन्मतिथि:- 15/08/2000
    समय 14 अगस्त की रात 1:55 पर मतलब 15 तारिक लग चुकी थी
    मेरी शादी कब होगी और मेरी लग्न कुंडली मे मंगल चौथे भाव मे बैठा हैं और साथ मे सुर्य बुद्ध और राहु भी है

  4. 26/10/1979
    1:15pm
    मकर लग्न,7th घर में मंगल नीच का है
    म्रत्यु तुल्य कष्ट है plz मार्गदर्शन करें plz?

Leave a Comment

Your email address will not be published.