अष्टम भाव में मंगल का फल | Mars in Eighth House

अष्टम भाव में मंगल का फल | Mars in Eighth House | आठवें भाव / स्थान में मंगल होने से  दाम्पत्य सुख में कमी होती है। ऐसा जातक सर्वदा अनुचित बोलनेवाला, गुप्त रोग वाला, चिंतायुक्त, रत्नो का पारखी तथा शरीर में जख्म वाला होता है।  इस भाव में मंगल होने से मंगल / मांगलिक दोष भी होता है और इस मंगल दोष के कारण दाम्पत्य जीवन दुःख  से भरा होता है। मंगल यहाँ पर पारिवारिक जीवन में शुभ परिणाम नहीं देता है।

अष्टम भाव में मंगल और पारिवारिक जीवन | Mars in Eighth House and Family

अष्टम भाव में मंगल जातक को वैवाहिक जीवन में असंतोष अथवा परिवार से दूर करता है। ऐसा जातक अपने परिवार के साथ रहकर भी साथ होने का अनुभव नहीं करता  है। ऐसे व्यक्ति को जीवन में अनेक कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। ऐसा जातक अपने आयु के 24 वें  25 वें वर्ष में पारिवारिक परेशानियों से गुजरता है।  मंगल इस स्थान पर होने से या तो विवाह जल्दी ही हो जाता है या तो बहुत देर से होता है। यहाँ का मंगल आपके दाम्पत्य जीवन के दु:ख का कारण बनता है।

अष्टम भाव में मंगल

पत्नी / जीवनसाथी के साथ आपका व्यवहार बहुत मधुर नहीं रह सकता अतः मधुर सम्बन्ध बनाने में आपको ही अहम भूमिका निभाने पड़ेंगे। इस स्थान से मंगल चतुर्थ दृष्टि से अपने बड़े भाई को तथा अष्टम दृष्टि से अपने छोटे भाई को देख रहा है इस कारण से आपका अपने अग्रज तथा अनुज से संबंध बना रहेगा और आप हमेशा उनके भले के लिए कार्य करेंगे। परन्तु कभी कभी आपके भाई-बंधू भी अचानक शत्रु बन जाते है। आपका अपने पिता के साथ वैचारिक भिन्नता के कारण तनावपूर्ण सम्बंध रह सकता है। यदि कुंडली के अन्य ग्रह प्रभावित कर रहा हो तो इस स्थान का मंगल दो शादी का योग भी बनाता है। पत्नी के प्रति आपका स्वभाव रुखा रहेगा यह रूखापन हिंसात्मक रूप में भी बदल सकता है खासकर तब जब मेष अथवा वृश्चिक लग्न हो।

अष्टम भाव में मंगल का फल | Mars in Eighth House

अष्टम भाव में मंगल और मनःस्थिति | Mars in 8th House and Psychology

आप  स्वभाव से क्रोधी हो सकते हैं। आपकी वाणी अवसर के अनुकूल होगा किसी के लिए मधुर तो किसी के लिए कठोर हो सकती है। वैवाहिक जीवन में आने वाली परेशानियों के कारण आप मानसिक रूप से परेशान रह सकते है। आप ईर्ष्यालु  स्वभाव के हो सकते है। यहाँ मंगल बेचैनी और चिड़चिड़ापन  भी देता है। मंगल आपको धन संग्रह करने के लिए बाध्य करता है। आपको झूठ बोलने से परहेज नहीं होगा। आपमें झूठ को भी सत्य साबित करने की वाक्पटुता होगी। आप आत्महत्या की भी कोशिश कर सकते हैं।

 

अष्टम भाव में मंगल और स्वास्थ्य | Mars in 8th House and Health

अष्टम भाव का मंगल बवासीर तथा भगन्दर जैसी बीमारी को जन्म देती है। आपको को खुनी बवासीर हो सकती है। आपको रक्तचाप भी हो सकता है। बचपन में पेट से सम्बंधित कुछ तकलीफें रह सकती हैं। आपको कोलाइटिस या संग्रहणी नामक बिमारी हो सकती है यह एक गंभीर बीमारी होती है।  इस  बिमारी में बड़ी आंत की अंदरूनी परत में सूजन हो जाती है जिसके कारण पेट दर्द के साथ दस्त में आंव भी निकलने लगती है तथा किसी किसी को तो मल में खून के साथ कुछ आंत के टुकड़े भी निकलने लगते हैं। कहा गया है–

रूधिरार्तोगतनिश्चयः कुधी विद्यो निंधयतम कुजेष्टमे।

यदि मंगल यहाँ नीच का हो अर्थात कर्क राशि का हो तो रक्तपित्त ( नाक आदि से खून का आना) रोग होता है।

आर्थिक एवं व्यावसायिक स्थिति| Mars in 8th House and Economic condition

अष्टम भाव में मंगल होने से आपको धन कमाने के लिए तथा व्यावसायिक सफलता के लिए अधिक परिश्रम करनी पडेगी। यहाँ मंगल होने से आर्थिक दृष्टि बहुत अच्छा नहीं है। आपको अपने जीवन में दो प्रकार से आय होने की सम्भावना बनती  है। आपके पास गुप्त धन तथा गुप्त कार्य हो सकता है। यदि अशुभ का मंगल है या अशुभ प्रभाव में मंगल है तो आपका स्वयं किया गया परिश्रम व्यर्थ प्रयास होकर रह जाएगा।

1 thought on “अष्टम भाव में मंगल का फल | Mars in Eighth House”

Leave a Comment

Your email address will not be published.