शनि गोचर मकर राशि 2022 : मेष राशि पर प्रभाव

शनि गोचर मकर राशि 2022 : मेष राशि पर प्रभाव

कर्म एवं मृत्यु कारक ग्रह शनि की प्रेरणा से ही व्यक्ति प्रत्येक कर्म हेतु प्रवृत्त होता है। इनके कृपा दृष्टि से जातक रुके हुए काम सम्पन्न हो जाते हैं और प्रत्येक क्षेत्र में सफलता मिलने लगती है। 2022 में शनि ग्रह का प्रभाव सभी राशियों पर पड़ेगा। वर्ष 2022 में शनि की साढ़े साती का प्रभाव धनु, मकर और कुम्भ राशि के ऊपर रहेगा। शनि मकर और कुंभ राशि का स्वामी ग्रह हैं। अर्थात शनि अपनी ही राशि मकर में ढाई साल तक संचार करेंगे।

आइये जानते है शनि के 2022 मे मकर राशि में गोचर का क्या प्रभाव रहेगा।

मेष लग्न तथा मेष राशि 2022

मेष लग्न तथा राशि वाले व्यक्ति के लिए शनि लाभ और कर्म भाव का स्वामी होकर कर्म भाव में गोचर ( Transit in Tenth house) करेंगे। मेष लग्न वालों के लिए शनि का दसवें भाव में गोचर शुभ होगा लाभ के दृष्टि से किये गए कार्य में आशानुरूप लाभ मिलेगी क्योंकि शनि अपने ही राशि में ढाई साल होंगे।

सामान्य फल | General Prediction

मेष ( Aries sign ) जातक के लिए कर्म भाव ( Career House) से शनि भाई-बंधू , व्यय तथा दाम्पत्य भाव को देखेगा शनि की यह स्थिति आपको हर्ष और विषाद, लाभ और हानि दोनों परिणाम देने में सक्षम होगा। धन का लाभ तो होगा परन्तु कहाँ-कहाँ खर्चे करना है इसकी योजना भी बनकर तैयार रहेगा। आपको कार्यों में सफलता तो मिलेगी किन्तु देर से या किंचित संघर्ष करने के बाद।

मकान एवं वाहन | Property and Vehicle

यदि आपकी कुंडली में चतुर्थेश लग्न, तृतीय या पंचम भाव में है और आप घर या वाहन खरीदना चाहते हैं तो निश्चित ही आपको घर और वाहन का सुख मिलेगा। इस समय आपको किसी से ऋण भी लेना पड़ सकता है। इस ऋण के कारण आप तनाव में रह सकते हैं। अपने घर के संदौर्यीकरण पर खर्च कर सकते हैं। यात्रा का योग बन रहा है परन्तु थोड़ा संभलकर ही यात्रा करें तो ठीक रहेगा।

परिवार एवं दाम्पत्य जीवन | Family Life

गोचर ( Transit) में शनि की दृष्टि घर और वैवाहिक सुख के भाव पर रहेगा इस कारण परिवार के बीच कटुता आ सकती है। प्रतिदिन की कडवाहट का सामना करना पड़ सकता है। आपस में क्लेश हो सकता है परन्तु आप परेशान न हो क्योकि आपको पता है की ऐसा हो सकता है अतः नकारात्मक सोच को मन से निकालकर परिवार से जुड़े रहे।

पिता के साथ वैचारिक मतभेद होने का योग बन रहा है। माता को शारीरिक कष्ट हो सकता है। अतः आप उनके स्वास्थ्य को लेकर परेशान हो सकते हैं। अपने किसी सगे सम्बन्धियो से मन मुटाव हो सकता है।

विवाह | Marriage

यदि आप विवाह के योग्य है या विवाह में देर हो रही है तो ज्यादा इन्तजार न करे अक्टूबर 2020 तक अवश्य ही कोई निर्णय ले ले नहीं तो और देर हो सकती है। जानें ! कब होगी आपकी शादी

व्यवसाय एवं आर्थिक क्षेत्र | Business and Economic Status

आपकी राशि से दसवें स्थान में शनि भ्रमण करेगा वा कर रहा है जो कर्म का स्थान है। इस स्थान का संबंध कर्म के अलावा यश, मान सम्मान तथा पिता का धन से भी है। शनि के अपनी ही राशि में गोचर करने से पेशेवर व व्यवसायी जातकों को धोड़ी परेशानी के साथ अवश्य ही लाभ होगा। यदि आप साझेदारी में कोई काम करना चाहते हैं तो अचानक कोई निर्णय न ले। कोई भी फैसला सोच समझकर लेने में ही बुद्धिमानी होगी।

नौकरी | Service

इस समय नई नौकरी लगने का योग बन रहा है। यदि नौकरी कर रहे है तो आपका स्थानांतरण हो सकता है। अधिकारियो के साथ वाद-विवाद हो सकता है अतः इससे बचें रहें। नौकरी में परिवर्तन का भी निर्णय सोच-समझकर कर लें जल्दीबाजी में कोई निर्णय न लें। शत्रु आपके ऊपर हावी हो सकते है।

विद्यार्थी | Students

जो छात्र हैं उन्हें पढाई में आलस्य आ सकता है। पढाई में मन न लगने से आपके अंदर चिड़चिड़ापन आ सकता है। शिक्षा के क्षेत्र में बाधा आ सकती है। माध्यमिक शिक्षा के छात्रों के लिए यह समय बहुत अनुकूल नहीं है उन्हें दुगना मेहनत करना पड़ेगा।

स्वास्थ्य | Health

यदि स्वस्थ्य की बात करे तो शनि एकादश और दशम भाव का स्वामी है और यदि आपकी कुंडली में शनि का गुरु, मंगल अथवा बुध से किसी प्रकार का सम्बन्ध बन रहा है तो आप बीमार हो सकते है। अपने बाएं नेत्र को बचा कर रखे चोट लग सकती है। आखों की रौशनी कम हो सकती इसके कारण आपको चश्मा लगाने की जरूरत हो सकती है। पेट से सम्बंधित कोई परेशानी हो सकती है खासकर लिवर से सम्बंधित।

उपाय | Remedies

जन्मकुंडली में यदि शनि की स्थिति अच्छी नहीं है तो धैर्य धारण करें तथा प्रत्येक शनिवार को कम से कम पीपल अथवा शमी वृक्ष के ऊपर जल अर्पण करे। शनिवार के दिन सुंदरकांड का पाठ करना भी शुभ रहेगा। ॐ शं शनैश्चराय नमः का नियमित जप करें ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.